Explore Bollywoood to hollywood

दिलीप कुमार और सायरा बानो ‘रुहानी प्यार’ के एक मिसाल

109

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

फिल्म जगत के महान अभिनेता दिलीप कुमार और सायरा बानो के बीच के प्यार को देखकर ऐसा लगता है मानो दोनों एक दूसरे को रुह से प्यार करते हैं।कुछ पर्सनल और पारिवारिक कारणों से दिलीप कुमार ने शादी करने का फैसला थोड़ी देर से लिया था। इसीलिए उस समय दिलीप कुमार को बॉलीवुड का मोस्ट इलिजिबल बैचलर भी कहा जाता था।जब दिलीप कुमार ने शादी की घोषणा की घोषणा कि तो पूरे बॉलीवुड में खुशी की लहर चल पड़ी थी।11 अक्टूबर 1966 को दिलीप कुमार फिल्म अभिनेत्री सायरा बानो के साथ शादी के बंधन में बंध गए।जिस समय दिलीप कुमार की शादी हुई उनकी उम्र 44 साल थी जबकि सायरा महज 23 साल की थी।दोनों की उम्र के बीच 21 साल का फासला था।दिलीप कुमार और सायरा बानो का परंपरागत तरीके से निकाह हुआ था।बाकायदा पृथ्वीराज कपूर ने पिता का फर्ज अदा किया था।राजेंद्र कुमार और देवानंद बाराती बनकर सेहरे में दूल्हा बने दिलीप कुमार के आजू-बाजू चल रहे थे।जो शादी में मौजूद थे उनका कहना है कि धूमधाम से नीकली बारात में संगीत और आतिशबाजी देखने लायक थी।

इतने लंबे समय समय तक कुंवारा रहने के बाद आखिरकार दिलीप कुमार ने सायरा बानो से शादी कर ली थी लेकिन शादी के पीछे की कहानी भी कम फिल्मी नहीं थी।सायरा बानो अपने जमाने की मशहूर अभिनेत्री नसीमा बानो की बेटी थी।नसीमा ने एक अमीर आदमी अहसान मिंया से शादी की थी ।कहते है कि अहसान ने नसीमा के लिए फिल्में भी बनाई थी।नसीम और अहसान के घर 23 अगस्त 1941 को एक लड़की ने जन्म लिया जिसका नाम दोनों ने बड़े प्यार से सायरा रखा।दोनों की गृहस्थी की गाड़ी ठीक ही चल रही थी कि अचानक थोड़ी अनबन हुई और दोनो ने तलाक ले लिया।1947 में जब भारत का विभाजन हुआ अहसान पाकिस्तान चले गए और नसीम दोनों बच्चों सायरा और उनके भाई को लेकर लंदन में बस गई।सायरा की शिक्षा लंदन में ही हुई थी।



लेकिन बचपन से ही सायरा की इच्छा फिल्म में एक्टिंग करने की थी।वो भी अपने मां की तरह एक बड़ी अभिनेत्री बनना चाहती थी।बचपन से ही सायार दिलीप कुमार की फैन थी।इस बात का खुलासा खुद सायरा ने एक इंटरव्यू में किया था सायरा ने कहा था कि जब वो महज 12 साल की थी तब एक फिल्म में दिलीप कुमार को देखकर इतनी इंप्रेश हो गई थी को मन ही मन में उनसे शादी के सपने देखने लगी थी।अल्लाह से दुआ करती थीं की उनकी शादी दिलीप कुमार से हो जाए।फिल्मी दुनिया में काम करने का सायरा का सपना 1959 में के सी मुखर्जी के फिल्म जंगली से पूरी हो गयी थी और 1966 में दिलीप कुमार के साथ शादी के बाद उनकी दूसरी मुराद भी पूरी हो गई ।हालांकि शादी से पहले सायरा बानों कुछ टाईम के लिए राजेंद्र कुमार के साथ रोमांस के चक्कर में भी पड़ गई थी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.